*2022* Bharat Ratna Puraskar List in Hindi (भारत रत्न पुरस्कार विजेताओं सूची)

List of Bharat Ratna Puraskar Winner PDF

0

2022 me bharat ratna kisko mila, Bharat Ratna Puraskar List in Hindi – दोस्तों आज हम आपको भारत रतन पुरस्कार पाने वाले महान व्यक्तियों के बारे में जानकारी देंगे ! वर्ष 1954 से अब तक भारत रत्न पुरस्कार विजेताओं की सूची की बारे में जानकारी देंगे !! जैसा कि आप सभी प्रतियोगी विद्यार्थी जानते होंगे किसी भी प्रतियोगी परीक्षाओं में Bharat Ratna Puraskar GK सेक्शन से अक्सर परीक्षाओं में प्रश्न पूछें जाते हैं ! bharat ratna 2022 Winner list नीचे दिए गए लेख के माध्यम से विस्तार से पढ़ें ! क्योंकि परीक्षाओं में यहां से प्रश्न पूछे जाने की संभावना अक्सर बनी रहती हैं इसलिए आप सभी विद्यार्थी इस लेख को ध्यान पूर्वक अवश्य पढ़ें !!

महत्वपूर्ण gk :-

List of Bharat Ratna Puraskar Winner :-

राष्ट्रीय सेवा के लिए दिया जाने वाला ‘भारत रत्न’ भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। इन सेवाओं में कला, साहित्य, विज्ञान, सार्वजनिक सेवा और खेल शामिल हैं। इस सम्मान की स्थापना 2 जनवरी 1954 को भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति श्री राजेंद्र प्रसाद द्वारा की गई थी। इस पदक का डिज़ाइन भारत रत्न देवनागरी लिपि में सूरज के साथ-साथ पीपल के पत्तों पर चमकता हुआ लिखा गया है।

भारत रत्न पुरस्कार
भारत रत्न पुरस्कार

आज हम आप सभी प्रतियोगी विद्यार्थियों को अब तक विभिन्न क्षेत्रों के 48 व्यक्तियों को भारत रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। 1954 में, पहले भारत रत्न को भारत के दूसरे राष्ट्रपति डॉ। सर्वपल्ली राधाकृष्णन द्वारा सम्मानित किया गया था।   और 1954 से लेकर 2019 me bharat ratna kisko mila सभी जानकारी निचे दिए गए लेख के माध्यम से पढ़े, और उन्हें अच्छे से याद करे !!

जरुर पढ़े :-

Bharat Ratna Puraskar List in Hindi

वर्ष
विजेताओं के नाम
जीवन काल और महत्वपूर्ण तथ्य

1954

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन (05 सितंबर, 1888-17 अप्रैल, 1975)
1954 चक्रवर्ती राजगोपालाचारी

(10 दिसंबर, 1878-25 दिसंबर, 1972)

1954

डॉ. चन्‍द्रशेखर वेंकटरमण (07 नवंबर, 1888-21 नवंबर, 1970)
1955 डॉ. भगवान दास

(12 जनवरी, 1869 -18 सितंबर, 1958)

1955

सर डॉ॰ मोक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या (15 सितंबर, 1860-12 अप्रैल, 1962)
1955 पंडित जवाहर लाल नेहरु

(14 नवंबर, 1889-27 मई, 1964)

1957

गोविंद वल्लभ पंत (10 सितंबर, 1887-07 मार्च, 1961)
1958 डॉ॰ धोंडो केशव कर्वे

(18 अप्रैल, 1858-09 नवंबर, 1962)

1961

डॉ॰ बिधन चंद्र रॉय (01 जुलाई, 1882-01 जुलाई, 1962)
1961 पुरूषोत्तम दास टंडन

(01 अगस्त, 1882-01 जुलाई, 1962)

1962

डॉ॰ राजेंद्र प्रसाद (03 दिसंबर, 1884-28 फरवरी, 1963)
1963 डॉ॰ जाकिर हुसैन

(08 फरवरी, 1897-03 मई, 1969)

1963

डॉ॰ पांडुरंग वामन काणे (07 मई 1880-08 मई 1972)
1966 लाल बहादुर शास्त्री

(02 अक्टूबर, 1904-11 जनवरी, 1966), मृत्यु के बाद

1971

इंदिरा गाँधी (19 नवंबर, 1917-31 अक्टूबर, 1984)
1975 वराहगिरी वेंकट गिरी

(10 अगस्त, 1894-23 जून, 1980)

1976

के. कामराज (15 जुलाई, 1903-1975), मरणोपरांत
1980 मदर टेरेसा

(27 अगस्त, 1910-05 सितंबर, 1997)

1983

आचार्य विनोबा भावे (11 सितंबर, 1895-15 नवंबर, 1982), मरणोपरांत
1987 खान अब्दुल गफ्फार खान

(06 फरवरी 1890 -20 जनवरी, 1988), पहले गैर-भारतीय

1988

एम जी आर (17 जनवरी, 1917-24 दिसम्बर, 1987), मृत्यु के बाद
1990 डॉ॰ भीमराव आंबेडकर

(14 अप्रैल, 1891-06 दिसम्बर, 1956), मृत्यु के बाद

1990

नेल्सन मंडेला (18 जुलाई, 1918-05 दिसम्बर, 2013), दूसरे गैर-भारतीय
1991 राजीव गांधी

(20 अगस्त, 1944-21 मई, 1991), मृत्यु के बाद

1991

सरदार वल्लभ भाई पटेल (31 अक्टूबर, 1875-15 दिसम्बर, 1950), मृत्यु के बाद
1991 मोरारजी देसाई

(29 फ़रवरी, 1896-10 अप्रैल, 1995)

1992

मौलाना अबुल कलाम आज़ाद (11 नवंबर, 1888-22 फरवरी, 1958), मरणोपरांत
1992 जे. आर. डी. टाटा

(29 जुलाई, 1904-29 नवंबर, 1993)

1992

सत्यजीत राय (02 मई, 1921-23 अप्रैल, 1992)
1997 ऐ. पी. जे. अब्दुल कलाम

(15 अक्टूबर, 1931-27 जुलाई, 2015)

1997

गुलजारी लाल नंदा (04 जुलाई, 1898-15 जनवरी, 1998)
1997 अरुणा आसफ अली

(16 जुलाई, 1909 -29 जुलाई, 1996), मरणोपरांत

1998

एम. एस. सुब्बुलक्ष्मी (16 सितंबर, 1916-11 दिसम्बर, 2004)
1998 सी. सुब्रामनीयम

(30 जनवरी, 1910-07 नवंबर, 2000)

1998

जयप्रकाश नारायण (11 अक्टूबर, 1902-08 अक्टूबर, 1979), मृत्यु के बाद
1999 पंडित रवि शंकर

(07 अप्रैल, 1920-12 दिसम्बर, 2012)

1999

अमर्त्य सेन (03 नवंबर 1933-अब तक)
1999 गोपीनाथ बोरदोलोई

(1890-1950), मरणोपरान्त

2001

लता मंगेशकर (28 सितंबर, 1929)
2001 उस्ताद बिस्मिल्ला ख़ां

(21 मार्च, 1916-21 अगस्त, 2006)

2008

पंडित भीमसेन जोशी (04 फरवरी, 1922 -05 जनवरी, 2011)
2014 सी॰ एन॰ आर॰ राव

(30 जून, 1934-अब तक), 16 नवंबर, 2014 घोषित

2014

सचिन तेंदुलकर (24 अप्रैल, 1973-अभी तक), 16 नवंबर 2014 घोषित
2015 अटल बिहारी वाजपेयी

(25 दिसंबर, 1924-16 अगस्त  2018), 25 दिसंबर, 2015 को घोषित

2015

मदन मोहन मालवीय (25 दिसंबर, 1861- 12 नवंबर, 1946, मृत्यु के बाद), 25 दिसंबर 2015 को घोषित किया गया
2019 प्रणब मुखर्जी

(11 दिसंबर 1935), 08 अगस्त, 2019 को सम्मानित किया

2019

भूपेन हजारिका (8 सितंबर, 1926-5 नवंबर, 2011 मृत्यु के बाद), 08 अगस्त 2019 को सम्मानित किया
2019 नानाजी देशमुख

(11 अक्टूबर, 1916 – 27 फरवरी, 2010 मृत्यु के बाद), 08 अगस्त 2019 को सम्मानित किया

Facts About Bharat Ratna Award in Hindi

  • भारत रत्न (Bharat Ratna), भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है|
  • इस सम्मान की स्थापना 2 जनवरी 1954 को भारत के प्रथम राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद ने की थी| 26 जनवरी को राष्ट्रपति के द्वारा मनोनीत व्यक्ति को इस अवार्ड से सम्मानित किया जाता है|
  • भारत रत्न सम्मान के पश्चात् पद्म विभूषण दुसरे नंबर पद्म भूषण तीसरे नंबर पर और पद्मश्री चोथे नंबर के भारत के नागरिक सम्मान हैं।
  • यह सम्मान भारत के किसी भी नागरिक को दिया जा सकता है| चाहे वो किसी भी जाति, व्यवसाय, पद और लिंग से सम्बंधित हो|
  • शुरुवाती दौर में यह सम्मान सिर्फ कला, साहित्य, विज्ञान और समाज सेवा के कार्यों में अभूतपूर्व योगदान के लिए ही दिया जाता था|
  •  दिसंबर 2011 में यह प्रतिबन्ध हटा लिया गया और आज यह किसी भी क्षेत्र में अभुद्पूर्व योगदान के लिए दिया जा सकता है|
  • भारत रत्न किसको देना है इसकी सिफारिश भारत का प्रधानमंत्री राष्ट्रपति को करता है| एक साल में ज्यादा से ज्यादा 3 व्यक्तियों को ही भारत रत्न से सम्मानित किया जा सकता है|
  • 1954 में सबसे पहले राजनीतिज्ञ सी. राजागोपालाचारी, भारत के दुसरे राष्ट्रपति सर्वेपल्ली राधाकृष्णन, और वैज्ञानिक सी.वी रमन को भारत रत्न से सम्मानित किया गया|
  • प्रारंभ में इस सम्मान को मरणोपरान्त देने का प्रावधान नहीं था| लेकिन जनवरी 1955 में एक संसोधन के द्वारा मरणोपरान्त सम्मान देने का भी इसमें प्रावधान डाला गया|
  • 2019 तक 48 लोगों को यह सम्मान प्राप्त हो चूका है, जिसमे से 12 लोगों को मरणोपरान्त यह सम्मान दिया गया है| लाल बहादुर शास्त्री प्रथम व्यक्ति थे जिन्हें मरणोपरान्त यह सम्मान दिया गया|
  • 2014 में 40 साल की उम्र में सचिन तेंदुलकर को यह सम्मान दिया गया| सचिन सबसे कम उम्र के भारत रत्न सम्मान पाने वाले व्यक्ति हैं|
  • धोंडो केशव कर्वे (Dhondo Keshav Karve) इनके 100वें जन्मदिन पर भारत रत्न से सम्मानित किया गया|
  • वेसे तो यह सम्मान सिर्फ भारत के नागरिक को ही मिलता है| लेकिन यह सम्मान तीन विदेशियों को भी मिल चुका है ये है समाज सेवी मदर टेरेसा, पाकिस्तानी नागरिक खान अब्दुल घफ्फार खान और साउथ अफ्रीका के राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला|
  • 24 दिसम्बर 2014 को यह सम्मान स्वतंत्रा सेनानी मदन मोहन मालवीय( मरणोपरान्त) और भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटलविहारी वाजपई को दिया गया|
  • आपको शायद जानकर आश्चर्य होगा यह अवार्ड जुलाई 1977 से जनवरी 1980 तक और अगस्त 1992 से दिसंबर 1995 तक वर्खास्त(Suspended) कर दिया गया था|
  • बात है जनवरी 1992 की जब सुभाष चन्द्र बोस को मरणोपरान्त यह अवार्ड देने के लिए मनोनीत किया गया| लेकिन कुछ लोगों ने सुप्रीम कोर्ट में PIL डाल कर सुभाष चन्द्र बोस की म्रत्यु का ओपचारिक प्रमाण मागा लेकिन सरकार के पास कोई ठोस प्रमाण न होने के कारण 1997 में सुभाष चन्द्र बोस का नाम भारत रत्न के मनोनीत लोगों में से हटा लिया गया| यह सिर्फ एक अकेला मौका था जब यह सम्मान की व्यक्ति को मनोनीत किया गया लेकिन सम्मान प्रदान करने से पहले ही नाम वापस ले लिया गया|
  • मोरारजी देसाई 1977 में जब भारत के 4th प्रधानमंत्री बने इन्होने 13 जुलाई 1977 को सारे व्यक्तिगत नागरिक सम्मान (भारत रत्न,) को ख़त्म कर दिया गया| लेकिन भारत की अगली प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी ने 25 जनवरी 1980 को इस सम्मान को दुवारा से शुरू कर दिया|
  • 1992 के मध्य में दो PIL(Public Interest Litigation) के द्वारा इसके सांविधानिक वैधता पर सवाल उठाये गए| एक PIL केरला हाई कोर्ट और दूसरी PIL मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में लगाई गई| मध्य 1992 से नवंबर 1995 तक भारत रत्न सम्मान को स्थगित कर दिया गया| लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने दिसंबर 1995 में दुवारा से इसको चालू करा दिया|
  • भारत रत्ना प्राप्त करने वाले व्यक्ति को पुरुष्कार स्वरुप कोई राशि नहीं मिलती| सिर्फ इसमें एक सनद(सर्टिफिकेट) और एक मैडल मिलता है|
  • भारत रत्न प्राप्त व्यक्ति ‘भारत रत्ना’ को अपने नाम के आगे या पीछे सर नेम की तरह प्रयोग नहीं कर सकता| जिन लोगों को भारत रत्न दिया जाता है, उनके नाम ‘The Gazette of India’ में प्रकाशित करना जरुरी है|
  • आपको जानकर आश्चर्य होगा, भारत रत्न का मूल आकर एक 35mm गोलाकार स्वर्ण मैडल था| जिसमे सामने सूर्य बना हुआ था ऊपर भारत रत्न लिखा था और निचे पुष्प हार था| पीछे की तरफ राष्ट्रिय चिन्ह और मोटो था|
  • बाद में इस पदक का डिजाईन बदल कर ताँबे के बने पीपल के पत्ते पर प्लेटिनम का चमकता हुआ सूर्य बना दिया गया| जिसके निचे चांदी में “भारत रत्ना” लिखा रहता है और इसे सफ़ेद फीते के साथ गले में पहना जाता है|
  • यह कहीं पर लिखित नहीं है की यह सम्मान केवल भारत के नागरिक को ही मिलेगा| और यह भी लिखित नहीं है की इस सम्मान को हर साल देना जरुरी है|
  • एक साल में अधिकतम तीन व्यक्तियों को ही यह सम्मान दिया जा सकता है|
  • श्री सत्यपाल आनंद ने राजीव गाँधी को मरणोपरान्त भारत रत्न देने की प्रक्रिया को मध्य प्रदेश उच्च न्यायलय में चुनोती दी थी|

Bharat Ratna Puraskar PDF in Hindi

आशा करते है, की आप सभी प्रतियोगी छात्र-छात्राएं को ‘Bharat Ratna Winner List PDF’ को आपके परीक्षा के लिए उपयोगी साबित हुई होगी !! अगर किसी प्रकार की जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट करके बताए !!

Important Book Download Now :-

3.2/5 - (11 votes)
हमसे जुड़ें, हमें फॉलो करे
  • Telegram पर फॉलो करे – Click Here
  • Facebook पर फॉलो करे – Click Here
  • Facebook ग्रुप ज्वाइन करे – Click Here

हमें फॉलो करे सोशल मीडिया साईट पर, और प्रति-दिन फ्री में करंट आफिर्स, नोट्स पीडीऍफ़ प्राप्त करे.

Leave A Reply

Your email address will not be published.