Civil Engineer Kaise Bane : सिविल इंजीनियर कैसे बने, आइए जानते हैं ?

0

Sarkari Engineer kaise Bane , Civil Engineer Kaise Bane, Junior Engineering बनने के लिए क्या करना पढता है आइए जानते हैं इस लेख के माध्यम से सिविल इंजीनियर कैसे बने और इसके फायदे क्या-क्या  है |  एक अच्छा करियर होने के लिए एक अच्छी जॉब या फिर खुद का एक अच्छा व्यवसाय होना आवश्यक है। और एक अच्छे जॉब या व्यवसाय के लिए आपको एक अच्छी फ़ील्ड का चुनाव करना आवश्यक है। आपको एक अच्छे फ़ील्ड में अपना करियर बनाना आवश्यक है।

तो इसीलिए आज हम आपके लिए लाए हैं। Civil Engineer सिविल इंजीनियर आपने कभी ना कभी सिविल इंजीनियर का नाम तो सुना ही होगा। अपने दोस्तों से या फिर अपने घर में अपने सिविल इंजीनियर के बारे में सुना ही होगा। तो हमारी इस पोस्ट में हम आपको सिविल (Civil engineer Kaise Bane) इंजीनियर कैसे बने सभी जानकारी हिंदी में बताएँगे। हम आपको सिविल इंजीनियर क्या है सिविल इंजीनियर कैसे करें आदि के बारे में बताएँगे।

Civil Engineer Exam kya hota hai ?

Civil Engineer Kaise Bane : सिविल इंजीनियर कैसे बने, आइए जानते हैं ?

सिविल इंजीनियर एग्जाम एक प्रोफेशनल कोर्स होता है। जिसे करने के बाद आप एक सिविल इंजीनियर बन जाते हैं। सिविल इंजीनियर का कार्य डिज़ाइनिंग बिल्डिंग घर बनाना रोड बनाना डेम बनाना जैसे कि घर कैसे बनेगा डैम कैसे बनेगा रोड कैसे बनेगा उसमें कौन-कौन से मटेरियल या सामान का इस्तेमाल होगा। आदि सभी कार्य सिविल इंजीनियर करता है।

  • यदि आप सिविल इंजीनियर बनना चाहते है। तो आप दसवीं  (10+2) कक्षा के बाद सीधा डिप्लोमा कोर्स कर के भी भी एक सिविल इंजीनियर बन सकते हैं। परंतु यह एक जूनियर सिविल इंजीनियर कोर्स होता है। यह 3 साल होता है। यदि आप एक सीनियर सिविल इंजीनियर कोर्स करना चाहते हैं। तो आपको बीटेक करनी होगी। बीटेक मैं आपको सिविल इंजीनियर करना होगा। यह 4 साल का होता है। और इसे करने के बाद आप एक सीनियर सिविल इंजीनियर बन जाते हैं।
  • यदि आप सिविल इंजीनियर में मास्टरी करना चाहते हैं। तो आप बीटेक के बाद सिविल इंजीनियर में एमटेक कोर्स भी कर सकते हैं। जिसकी अवधि 2 वर्ष की होती है।

इसे पढ़िए : –

Civil Engineer Eligibility Details : 

  • 12वीं कक्षा पास होना चाहिए।
  • 12वीं कक्षा साइंस सब्जेक्ट से पास होने चाहिए।
  • जिसमें फ़िज़िक्स केमिस्ट्री और मैथ सब्जेक्ट होने चाहिए।

Civil Engineer Kaise Bane (सिविल इंजीनियर कैसे बने)

सिविल इंजीनियर बनने के लिए क्या करना जरूरी है, इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे, जो आपको सिविल इंजीनियरिंग परीक्षा बनने में काफी मदद करेगा, इसलिए आप सभी विद्यार्थी हमारे दिए गए कुछ बातों को फॉलो अवश्य करें :-

10वीं कक्षा पास करें ?

यदि आप दसवीं कक्षा के बाद सिविल इंजीनियर कोर्स करना चाहते हैं। तो आप पॉलिटेक्निकल डिप्लोमा कर सकते है। इसके अंतर्गत आप सिविल इंजीनियर का कोर्स कर सकते हैं। यह 3 साल का होता है। परंतु यह एक जूनियर सिविल इंजीनियर कोर्स होता है।

12वी कक्षा पास करें ?

यदि अगर आप सिविल इंजीनियर बनना चाहते हैं। तो सबसे पहले आपको 12वीं कक्षा पास करनी होगी और 12वीं कक्षा को भी आपको साइंस सब्जेक्ट में फिजिक्स केमेस्ट्री मैथ के साथ पास करनी होगी और साथ ही साथ आपके 12वीं कक्षा में 60% मार्क्स होने अनिवार्य है। जोकि एंट्रेंस एग्जाम में बैठने के लिए जरूरी है।

civil engineer entrance exam

जब आप 12वीं कक्षा पास कर ले। तो एंट्रेंस एग्जाम के लिए अप्लाई करें। और उसे सफलतापूर्वक क्लियर भी करें। आप बड़े एंट्रेंस एग्जाम जैसे कि IIT और AIEEE ऑल इंडिया लेवल के एंट्रेंस एग्जाम दे सकते हैं। या फिर आप जो कॉलेज स्टेट लेवल पर एंट्रेंस एग्जाम करवाते हैं। उन एंट्रेंस एग्जाम को भी दे सकते हैं। या फिर आप उन कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं। जो कि बिना किसी एंट्रेंस एग्जाम के एडमिशन कराते हैं। और वहां पर आपको डोनेशन देना होता है। और यह काफी महंगा भी पड़ता है।

civil engineer counseling काउंसलिंग करें।

एंट्रेंस एग्जाम के सफलतापूर्वक पास होने के बाद अब आपको काउंसलिंग करनी होगी। और आपको आप के अंकों के आधार पर कॉलेज दिया जाएगा। तो एक अच्छे कॉलेज का चुनाव करें और उस में एडमिशन ले।

पढ़ाई पूरी करें।

जब आप एंट्रेंस एग्जाम क्लियर कर लें। और एक अच्छे कॉलेज में एडमिशन ले ले। तो उसके बाद आपको 4 साल तक मन लगाकर पढ़ाई करनी है। सिविल इंजीनियर का बैचलर डिग्री कोर्स 4 साल का होता है। इसलिए पूरी मेहनत के साथ पढ़ाई करें और अच्छे से अच्छे मार्क्स लाने की कोशिश करें।

इंटरशिप करें।

जब आप अपने सिविल इंजीनियर के बैचलर डिग्री की पढ़ाई पूरी कर लें। तो उसके बाद आप इंटरशिप के लिए अप्लाई करें इंटरशिप करना एक काफी अच्छा निर्णय होगा। क्योंकि जब आप किसी कंपनी में जॉब के लिए है तो आपसे वर्क एक्सपीरियंस माँगा जाता है। तो इंटरशिप से आपको एक अच्छा एक्सपीरियंस मिल सकता है। अगर आपके पास एक्सपीरियंस होगा। तो आपको आगे कंपनी मैं जॉब मिलने में आसानी होगी।

लाइसेंस और सर्टिफाइड के लिए अप्लाई करें।

जब आपको सिविल इंजीनियर की फ़ील्ड में कुछ साल का एक्सपीरियंस हो जाए। तो आपको एक सर्टिफाइड सिविल इंजीनियर बनने के लिए लाइसेंस के लिए अप्लाई करना होगा। और जब आपको लाइसेंस मिल जाएगा। तो आप एक सर्टिफाइड सिविल इंजीनियर बन जाएंगे।

Note : हमारे द्वारा बताए गए Tips को Follow करके आप Civil Engineer Kaise Bane, junior engineer kaise bane और क्या करना चाहिए आपको इस लेख को पढ़ कर समझ ही गए होगे | अगर आपको अन्य किसी भी प्रकार की जानकरी चाहिए तो अप हमें Comment करके पूछ सकते है |

इसे पढ़िए :-

हमसे जुड़ें, हमें फॉलो करे
  • Telegram पर फॉलो करे – Click Here
  • Facebook पर फॉलो करे – Click Here
  • Facebook ग्रुप ज्वाइन करे – Click Here

हमें फॉलो करे सोशल मीडिया साईट पर, और प्रति-दिन फ्री में करंट आफिर्स, नोट्स पीडीऍफ़ प्राप्त करे.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: कृपया उचित स्थान पर Click करे !!